Thursday, 3 August 2017

इस वर्ष का द्वितीय चंद्रग्रहण 7 एवं 8 अगस्त 2017 को होगा




इस वर्ष  का  द्वितीय चंद्रग्रहण  7 एवं 8 अगस्त 2017 को होगा  यह चंद्रग्रहण  आंशिक होगा  अथार्थ  पृथ्वी से देखने पर यह चंद्रमा का कुछ हिस्सा ही अपने आवेश में लेगा. चंद्र ग्रहण का समय रात्रि 10:52 से लेकर 12:48 तक रहेगा. इस दौरान लगभग 11:50 पर यह अपने चरम पर होगा. यह चंद्रग्रहण भारत सहित यूरोप के कई देशों में दिखाई देगा. 
यह चंद्रग्रहण मकर राशि तथा श्रवण नक्षत्र में होगा. ग्रहण के बारे में यह धारणा है की ग्रहण ज्यादातर बुरा परिणाम ही देता है परंतु यह धारणा पूरी तरह से सही नहीं है यदि ग्रहण कुंडली के बुरे घरों पर अपना असर डालेगा तो वह जातक को अच्छा परिणाम देगा और यदि यह अच्छे घरों पर अपना प्रभाव डालेगा तो जातक को बुरा परिणाम देगा. सामान्यतः जिस देश में ग्रहण दिखाई देता है उस देश में इसका असर ज्यादा होता है अतः यह चंद्रग्रहण भारतवर्ष के लोगों पर अपना असर अधिक दिखाएगा
ग्रहण का परिणाम अक्सर ग्रहण से 40 दिन तक काफी ज्यादा महसूस किया जाता है यह ग्रहण क्योंकि मकर राशि में पड़ रहा है अतः भारतवर्ष में इसका  विशेष रुप से असर लोगों के कार्यक्षेत्र पर पड़ेगा
चंद्रमा जनता का प्रतीक है अतः आम जनता के लिए यह 40 दिन कार्यक्षेत्र संबंधी कुछ परेशानी भरे हो सकते हैं तथा कुछ परिवर्तन करवा सकते हैं ऐसे समय यदि कुछ सावधानियां रखी जाए तो इसका असर बहुत मामूली हो जाएगा तथा अनावश्यक परेशानियों से बचाव किया जा सकेगा 
विभिन्न राशियों पर चंद्रग्रहण के पढ़ने वाले प्रभावों की जानकारी राशि अनुसार नीचे दी गई है तथा हर राशि के लिए किए जाने वाले उपाय भी साथ में दिए गए हैं यह उपाय चंद्रग्रहण समाप्ति के तुरंत बाद अथार्थ 8 अगस्त को सूर्य अस्त से पहले करने चाहिए यदि किसी वजह से यह उपाय 8 अगस्त के सूर्य अस्त तक न कर पाए तो चंद्रग्रहण के समाप्ति के बाद 3 दिनों में यह उपाय अवश्य कर लिए जाए ताकि चंद्रग्रहण के दुष्परिणामों से बचा जा सके

मेष राशि
मेष राशि के जातकों के लिए चंद्रग्रहण उनके दसवें घर में पड़ रहा है दसवां घर कार्यक्षेत्र होता है अतः इन लोगों को अपने कार्य क्षेत्र में मान सम्मान की हानि हो सकती है अपने उच्चाधिकारियों के साथ संबंधों में भी कुछ तनाव महसूस किया जा सकता है मेष राशिफल शनि की ढैया चल रही है (needs rephrasing) तथा मंगल जो मेष राशि का स्वामी है वह भी इस समय नीच का होकर विचरण कर रहा है अतः यह धर्म तथा मान सम्मान की प्राप्ति में विघ्न डाल सकता है ऐसे समय mein कई बार किसी करीबी के मृत्यु के समाचार भी मिल सकते हैं या किसी करीबी को कुछ रोग होने की संभावना हो सकती है मेष राशि के जातकों को वाहन चलाते समय विशेष रुप से सावधान रहना चाहिए अन्यथा वाहन दुर्घटना की संभावना संभव है
उपाय:
मेष राशि के जातकों को अपनी माता का आशीर्वाद लेना चाहिए तथा उनकी प्रसंता के लिए कुछ भेंट जरूर देनी चाहिए 

वृष राशि
 वृष राशि के जातकों के लिए यह ग्रहण उनके नवे घर में पड़ रहा है नवें घर से पिता धर्म, यात्राएं, शुभ कार्यों का विचार किया जाता है वृष राशि के जातकों को अपनी माता-पिता की सेहत का विशेष ध्यान रखना चाहिए तथा अनावश्यक यात्राओं को टाल देना चाहिए धन की प्राप्ति के लिए यह समय शुभ रहेगा कार्यक्षेत्र में स्थान परिवर्तन का योग बन रहा है वह जातक जो स्थान परिवर्तन करना चाहते हैं उन जातकों के लिए यह समय स्थान परिवर्तन के लिए काफी उत्तम रहेगा इस समय में पारिवारिक तथा भूमि भवन संबंधी कुछ समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है

उपाय:
धर्म स्थान पर खीर का प्रसाद चढ़ाएं एवं गरीबों में बांटे

मिथुन राशि
मिथुन राशि वालों के लिए चंद्र ग्रहण उनके आठवें घर में पड़ रहा है आठवें घर से लंबी बीमारियां पैतृक संपत्ति तथा पैतृक आशीर्वाद  या श्राप को देखा जाता है स्वास्थ्य की दृष्टि से मिथुन राशि वालों के लिए यह समय उपयुक्त रहेगा पुराने रोगो से मुक्ति मिलेगी अधिकारियों का सहयोग मिलेगा तथा प्रतिष्ठा बढ़ेगी. धन प्राप्ति के लिए यह समय ठीक रहेगा परंतु अनावश्यक खर्चे कुछ परेशान कर सकते हैं पारिवारिक व्यस्तता अधिक रहेगी. माता से वैचारिक मतभेद हो सकते हैं

उपाय:
गंगाजल या किसी पवित्र स्थल के जल को चांदी की डब्बी में बंद करके घर के पूजा स्थान में रखें

कर्क राशि:
कर्क राशि वालों के लिए यह ग्रहण उनके सातवें घर में होगा सातवां घर  पार्टनर का होता है तथा यह घर कार्यक्षेत्र में आपके रुतबे को भी दर्शाता है कर्क राशि वालों के लिए यह समय उनकी माता या उनके पाटनर के स्वास्थ्य के लिए अनुकूल नहीं है इन लोगों को कोई महत्वपूर्ण कार्य करने में कुछ परेशानियों का अनुभव हो सकता है तथा अज्ञात कारणों से कार्य में विलंब पड़ सकता है परंतु सफलता अवश्य प्राप्त होगी. यात्राएं लाभकारी हो सकती हैं नए सहयोग की प्राप्ति हो सकती है. फूड पॉइजनिंग तथा आंखों में कष्ट हो सकता है
उपाय:
ग्रहण काल में ओम नमः शिवाय मंत्र का लगातार जाप  करते रहे तथा चंद्र ग्रहण के पश्चात शिव मंदिर में कच्चा दूध अवश्य चढ़ाएं


सिंह राशि;
सिंह राशि के जातकों के लिए चंद्रग्रहण उनके छठे घर में हो रहा है, छठे घर से रोग, दुश्मन, नौकरी पाप  भी देखा जाता है यह भाव बीमारी का भाव है तथा बीमारी किस प्रकार की होगी यह भी छठे घर से ही देखा जाता है चंद्रग्रहण क्योंकि सिंह राशि के जातकों के छठे घर मैं हो रहा है इसलिए यह पीड़ा कष्ट एवं मानसिक व्यथा समाप्त करने में सहयोगी होगी.  स्वास्थ्य में सुधार होगा पारिवारिक सुख मिलेगा घर खर्च अधिक होगा तथा किसी के द्वारा धोखा दिए जाने की संभावनाएं होंगी. ननिहाल पक्ष के लिए यह समय उत्तम नहीं है.  मुकदमे में विजय होने की संभावना है
इस समय सिंह राशि के जातकों को सफेद रंग के कपड़ों तथा सफेद रंग की चीजों का प्रयोग कम करना चाहिए 
उपाय:
हनुमान जी की मूर्ति को लाल पुष्प की माला में चोला पहनाना है और तेल का दीपक जलाएं

कन्या राशि:
कन्या राशि के जातकों के लिए चंद्रग्रहण उनके पांचवे घर पर पढ़ रहा है पांचवा घर विद्या बुद्धि संतान उधर स्मृति पिछले जन्म के पुण्य से संबंधित होता है कन्या राशि के जातकों के लिए इस समय उनके आय के साधनो में वृद्धि होगी, रुके हुए काम बनेंगे और मान प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी मित्रों का सहयोग रहेगा. रोगों से मुक्ति मिलेगी, प्रेम संबंधों में सफलता मिलेगी और सहकर्मियों से मतभेद और मनमुटाव रहेगा. संतान के कार्यों से मान सम्मान बढ़ेगा 

उपाय:
महामृत्युंजय मंत्र का जाप करें 

तुला राशि;
तुला राशि के जातकों के लिए चंद्रग्रहण उनके चौथे घर में पड़ रहा है चौथा घर भूमि, माता, वाहन, सुख, विद्या, घर से संबंधित होता है सुख की अनुभूति भी चतुर्थ घर से ही देखी जाती है 
तुला राशि के जातकों के लिए चंद्रग्रहण का प्रभाव अच्छा रहेगा रोजगार में संतुष्टि रहेगी नए अवसर की प्राप्ति होगी मित्रों का सहयोग रहेगा खर्चो पर नियंत्रण रहेगा कोई रुका हुआ काम बनेगा तथा आय के साथ में वृद्धि होगी  जोड़ों के दर्द की समस्या रह सकती है
उपाय:
तुला राशि के जातकों को मोती धारण करना चाहिए

वृश्चिक राशि:
वृश्चिक राशि के जातकों के लिए चंद्रग्रहण उनके तीसरे घर में पड़ रहा है तीसरा घर धैर्य साहस दृढ़ता बुरे विचार दयाकांत वीरता पराक्रम या छोटे भाई बहनों का होता है वृश्चिक राशि वालों को विशेष रूप से धन का लाभ होगा स्वास्थ्य का सुख बना रहेगा उच्च (In think it should be उच्चस्तर)  में प्रतिष्ठित लोगों से संबंध बनेंगे यात्रा में खर्च अधिक होगा मानसिक तनाव में क्रोध अधिक रहेगा 

उपाय :
प्रतिदिन  मंदिर में शिव जी को जल चढ़ाएं

धनु राशि 
धनु राशि के जातकों के लिए चंद्रग्रहण उनके दूसरे घर में पड़ रहा है दूसरा घर चेहरा वाणी  संपत्ति कुटुंब से संबंधित होता है यह भाव जातक की ऐश्वर्य  लाभ या हानि के बारे में भी बताता है दूसरे भाव को मार्ग भाव भी कहा जाता है क्योंकि यह जातक की मृत्यु को बताता है 
धनु राशि के जातकों के लिए यह समय अच्छा नहीं होगा आकारण धन की हानि होगी मन में भय रहेगा प्रयत्नों में असफलता मिलेगी  आत्मविश्वास में कमी महसूस करेंगे मित्रों एवं रिश्तेदारों का विरोध रहेगा पारिवारिक उलझन बनी रहेगी मानसिक तनाव रहेगा तथा क्रोध अधिक आएगा

उपाय:
प्रतिदिन शिवजी को जल चढ़ाएं मृत्युंजय का पाठ करें

मकर राशि:
मकर राशि के जातकों के लिए चंद्रग्रहण उनके प्रथम भाव में होगा प्रथम भाव से शेर व्यक्तित्व वर्तमान देखा जाता है
मकर राशि के जातकों को प्रशासन से भय की स्थिति रहेगी (वह की अधिकता रहेगी - can't understand) आर्थिक कठिनाइयों में कमी आएगी सर में चोट की संभावना रहेगी आय के साधनो में कठिनता आएगी (परंतु आज जारी रहेगी - can't understand) मानसिक तनाव में क्रोध की स्थिति रहेगी दुश्मनों से सावधान रहें

उपाय:
हनुमान चालीसा हनुमान अष्टक तथा बजरंग बाण का जाप करें

कुंभ राशि:
कुंभ राशि के जातकों के लिए चंद्रग्रहण उनके बारहवें घर में पढ़ रहा है बारहवें घर का संबंध खर्च निद्रा बंधन दुख तथा पैरों से संबंधित होता है
कुंभ राशि के जातकों के लिए यह समय मिलाजुला होगा स्त्री सुख की प्राप्ति होगी कारोबार मध्यम रूप से चलेगा शुभ कार्य होंगे सेहत ठीक रहेगी आय होगी तथा आय से अधिक व्यय होगा चोट लगने की संभावना रहेगी शत्रुओं से हानि हो सकती है यात्राओं में लाभ मिलेगा

उपाय:
विष्णु जी के किसी भी मंत्र का या गायत्री मंत्र का जाप करें

मीन राशि:
मीन राशि के जातकों के लिए चंद्रग्रहण उनके 11 वे घर में पड़ रहा है 11वे घर का संबंध लाभ इच्छाओं की प्राप्ति सिद्धि वैभव सत्कार से संबंधित होता है
मीन राशि के जातकों के लिए यह समय बहुत अच्छा रहेगा सुख समृद्धि की वृद्धि होगी धन  की प्राप्ति होगी विद्यार्थियों को परीक्षा में सफलता मिलेगी संतान की प्राप्ति के योग है, कोर्ट कचहरी के मामलों में सफलता मिलेगी विरोधियों पर विजय प्राप्त करेंगे तथा मनोरंजन में समय व्यतीत होगा व्यर्थ की दौड़-धूप रहेगी धार्मिक कार्यों पर व्यय बढ़ेगा

उपाय:
विष्णु सहस्त्रनाम का जप करें

Predictions for 2018

       India: - This year will start on a positive note and will be good for economic growth. After the first quarter, growth in business...